मुख्यमंत्री दुग्ध उत्पादक संबल योजना 2024 – एप्लीकेशन फॉर्म, पात्रता एवं लाभ

Mukhymantri Dugdh Utpadak Sambal Yojana;- पशुपालकों की आय में वृद्धि करने के लिए एवं पशुपालन को बढ़ावा देने के लिए राजस्थान सरकार द्वारा मुख्यमंत्री दुग्ध उत्पादक संबल योजना की शुरुआत की गई है। इस योजना के माध्यम से प्रति लीटर दूध बेचने पर पशुपालकों को 5 रुपए तक की अनुदान राशि राज्य सरकार द्वारा प्रदान की जाएगी। Mukhymantri Dugdh Utpadak Sambal Yojana के लिए राजस्थान सरकार द्वारा 500 करोड़ रुपए का बजट निर्धारित किया गया है। इस योजना के माध्यम से किसानों एवं पशुपालकों की आय में वृद्धि होगी तथा उनकी आर्थिक समस्या भी हल हो सकेगी। अगर आप भी राजस्थान के निवासी है और किसान या पशुपालक है तो आप भी इस योजना का लाभ प्राप्त कर सकते हैंं। मुख्यमंत्री दुग्ध उत्पादन संबल योजना से संबंधित अधिक जानकारी प्राप्त करने के लिए आपको यह आर्टिकल ध्यानपूर्वक अंत तक पढ़ना होगा।

Mukhymantri

Mukhyamantri Dugdh Utpadak Sambal Yojana 2024

राजस्थान के मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत जी के द्वारा राज्य के किसानों एवं पशुपालकों की आय में वृद्धि करने के लिए मुख्यमंत्री दुग्ध उत्पादन संबल योजना राजस्थान को शुरू किया गया है। मुख्यमंत्री दुग्ध उत्पादन संबल योजना राजस्थान के अंतर्गत समस्त पशुपालन को बढ़ावा देने के लिए पशुपालक द्वारा दूध बेचने पर प्रति लीटर के हिसाब से 5 रूपए की अनुदान राशि राजस्थान सरकार की ओर से प्रदान की जाएगी। योजना के दौरान प्रदान की जाने वाली अनुदान राशि सीधे लाभार्थी के बैंक खाते में वितरित की जाएगी। इस योजना के माध्यम से राज्य के लगभग 50,000 पशुपालक एवं किसानों को लाभान्वित किया जाएगा।

इससे पहले इस योजना के माध्यम से किसानों को 2 रूपए प्रति लीटर के माध्यम से अनुदान दिया जाता था लेकिन अब सरकार द्वारा अनुदान की राशि को बढ़ाकर 5 रुपए प्रति लीटर कर दिया गया है। ताकि ज्यादा से ज्यादा लोगों को इस योजना का लाभ मिल सके। राजस्थान सरकार द्वारा मुख्यमंत्री दुग्ध उत्पादन संबल योजना के लिए 500 करोड़ रुपए का बजट निर्धारित किया गया है। जिसके आधार पर पात्र लाभार्थियों को योजना का लाभ प्राप्त होगा।

राजस्थान रोजगार मेला

मुख्यमंत्री दुग्ध उत्पादक संबल योजना के बारे में जानकारी

योजना का नाम Mukhymantri Dugdh Utpadak Sambal Yojana
शुरू की गई राजस्थान सरकार द्वारा
उद्देश्य किसान व पशुपालक की आय में वृद्धि करना
लाभार्थी राज्य के किसान एवं पशुपालक
अनुदान राशि दूध पर 5 रुपए प्रति लीटर अनुदान
लाभार्थियों की संख्या 5 लाख
राज्य राजस्थान

Mukhyamantri Dugdh Utpadak Sambal Yojana का उद्देश्य

राजस्थान सरकार द्वारा मुख्यमंत्री दुग्ध उत्पादक संबल योजना को शुरू करने का मुख्य उद्देश्य राज्य के किसान व पशुपालक की आय में वृद्धि करना है। एवं शुद्ध दूध की समस्या को दूर करना है। इस योजना के माध्यम से सरकार द्वारा दूध बेचने पर पात्र लाभार्थियों को प्रति लीटर दूध पर 5 रुपए की अनुदान राशि प्रदान की जाएगी। जो कि सीधे लाभार्थी के बैंक खाते में जमा की जाएगी। राज्य के किसानों एवं पशुपालकों को आत्मनिर्भर व सशक्त बनाने के लिए मुख्यमंत्री दुग्ध उत्पादन संबल योजना को लागू किया गया है।

पालनहार योजना राजस्थान

मुख्यमंत्री दुग्ध उत्पादक संबल योजना की विशेषताएं

  • मुख्यमंत्री दुग्ध उत्पादक संबल योजना की मुख्य विशेषता यह है कि इसके माध्यम से पशुपालक किसानों की आय में सुधार होगा।
  • इस योजना के माध्यम से लाभार्थी को अनुदान राशि प्रदान की जाएगी। जिसमें सरकार द्वारा बढ़ोतरी की गई है।
  • राजस्थान सरकार द्वारा मुख्यमंत्री दुग्ध उत्पादक संबल योजना के लिए 500 करोड़ का बजट निर्धारित किया गया है।
  • मुख्यमंत्री दुग्ध उत्पादक संबल योजना के माध्यम से राज्य में पशु आहार की गुणवत्ता जांचने के लिए एक आधुनिक लेब को भी विकसित किया जाएगा।
  • डेयरी उत्पादन के विचारों को बढ़ावा देने और युवाओं को रोजगार उपलब्ध कराने के लिए राजस्थान में 10,000 डेयरी बूथों की स्थापना की जाएगी।
  • राजस्थान के हर गांव में दुग्ध उत्पादक संबल योजना के तहत ग्राम पंचायत में नदी शाला का भी निर्माण किया जाएगा।

दुग्ध उत्पादक संबल योजना के लाभ

  • राज्य के पशुपालक एवं किसानों के हित को ध्यान में रखते हुए राजस्थान सरकार द्वारा दुग्ध उत्पादन संबल योजना को शुरू किया गया है।
  • दुग्ध उत्पादन संबल योजना के माध्यम से राज्य के समस्त पशुपालकों को पशुपालन करने पर सरकार द्वारा आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी।
  • पशुपालकों को दूध बेचने पर 5 रूपए प्रति लीटर के हिसाब से राजस्थान सरकार द्वारा अनुदान राशि प्रदान की जाएगी।
  • दूध बेचने वाले पशुपालकों को अनुदान की राशि राज्य सरकार द्वारा सीधे उनके बैंक खाते में भेज दी जाएगी। इससे पहले लाभार्थियों को दूध बेचने पर 2 रुपए प्रति लीटर के हिसाब से अनुदान मिलता था।
  • राजस्थान के लगभग 50,000 पशुपालक एवं किसानों को इस योजना के माध्यम से लाभान्वित किया जाएगा।
  • इस योजना के माध्यम से राज्य में दूध उत्पादन के स्तर को बढ़ावा मिलेगा।
  • मुख्यमंत्री दुग्ध उत्पादन उत्पादक संबल योजना के माध्यम से लाभ लेने वाले नागरिक को आत्मनिर्भर व सशक्त बनाया जा सकेगा।
  • इस योजना के माध्यम से गाय भैंस के पालन करने वालों को दूध के अच्छे दाम मिल सकेंगे जिससे उनकी आय में वृद्धि होगी।

Saur Krishi Aajeevika Yojana

मुख्यमंत्री दुग्ध उत्पादक संबल योजना राजस्थान के लिए पात्रता

  • मुख्यमंत्री दुग्ध उत्पादक संबल योजना के लिए लाभार्थी को राजस्थान का स्थाई निवासी होना चाहिए।
  • इस योजना के लिए राज्य के पशुपालक एवं किसान पात्र होंगे।

मुख्य दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • स्थाई प्रमाण पत्र
  • आय प्रमाण पत्र
  • बैंक खाता विवरण
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • मोबाइल नंबर

Mukhyamantri Dugdh Utpadak Sambal Yojana के तहत आवेदन कैसे करें?

राजस्थान सरकार द्वारा शुरू की गई मुख्यमंत्री दुग्ध उत्पादक संबल योजना का लाभ राज्य के पशुपालकों व किसानों को प्रदान किया जाएगा। आपको बता दें कि इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए लाभार्थियों को किसी भी तरह का आवेदन करने की आवश्यकता नहीं होगी। मुख्यमंत्री दुग्ध उत्पादक संबल योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए लाभार्थी को डेयरी बूथों पर जाकर अपने दूध को बेचना होगा। जिसके बाद इन उत्पादोंको के द्वारा 5 रूपए प्रति लीटर दूध के हिसाब से लाभार्थी को अनुदान राशि प्रदान की जाएगी। इससे लाभार्थी को दूध का उचित और अधिक मूल्य प्राप्त हो सकेगा। इस प्रकार आप आसानी से इस योजना का लाभ प्राप्त कर सकते हैंं।


Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *