PMJAY-MA योजना के अंतर्गत गुजरात में प्रधानमंत्री ने वितरित किए आयुष्मान कार्ड

गुजरात में PMJAY-MA योजना के तहत आयुष्मान का र्ड वितरित करने की प्रक्रिया शुरू हो चुकी है। आपको बता दें गुजरात के तत्कालीन मुख्यमंत्री के रूप में, प्रधानमंत्री ने गरीब नागरिकों को चिकित्सा उपचार और बीमारी की भयावह लागत से बचाने के लिए 2012 में “मुख्यमंत्री अमृतम योजना शुरू की थी। फिर वर्ष 2014 में इस योजना के तहत 4 लाख रुपए की वार्षिक आय सीमा वाले परिवारों को कवर करने के लिए ‘एमए’ योजना का विस्तार किया गया। इसके बाद सन 2019 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने गुजरात की इन दोनों स्वास्थ्य योजनाओं (Amrutam और Amrutam Vatsaly) को आयुष्मान भारत कार्ड योजना के तहत एकत्रित कर दिया था। इन दोनों योजनाओं के एकीकरण के बाद गुजरात में 1.58 करोड़ लाभार्थियों को PMJAY-MA Card जारी किए गए।

एक अधिकारिक विज्ञाप्ति के अनुसार सितंबर 2021 से अब तक मुख्यमंत्री के नेतृत्व में 50 लाख से अधिक कार्ड जारी किए जा चुके हैं। अब इन 50 लाख लाभार्थियों को नए मुद्रित आयुष्मान पीवीसी कार्ड वितरित किए जाएंगे। आइए जानते हैं कि क्या है पीएमजेएवाई-एमए योजना?, इसके लाभ और कौन-कौन इस योजना का लाभ प्राप्त करने का पात्र है आदि के बारे में।

PMJAY-MA

PMJAY-MA Yojana 2024

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने 17 अक्टूबर 2022 को गुजरात के अहमदाबाद में आयोजित कार्यक्रम में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से PMJAY-MA योजना के लाभार्थियों को आयुष्मान कार्डवितरित करने की शुरुआत कर दी है। इस कार्यक्रम के दौरान प्रधानमंत्री जी ने लाभार्थियों से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से बातचीत भी की है। गुजरात में 50 लाख से भी अधिक आयुष्मान पीवीसी कार्ड (पॉलीविनाइल क्लोराइड सामग्री से बने जिन्हें आसानी से ले जाया जा सकता है) छप चुके हैं और संबंधित मुख्य जिला स्वास्थ्य अधिकारियों / चिकित्सा अधिकारियों को वितरित किए जा चुके हैं। जिन्हें जल्द से जल्द ग्राम स्तर पर वितरित किया जाएंगा।

लाभार्थियों को PMJAY-MA Yojana के इन आयुष्मान कार्ड के माध्यम से प्रति परिवार 5 लाख रुपये तक का स्वास्थ्य कवर प्रदान किया जाएगा और इसके तहत परिवार के सदस्यों की संख्या और उम्र की किसी सीमा के बिना प्राथमिक, द्वितीय एवं तृतीय स्तर के देखभाल के लिए अस्पताल में भर्ती के लिए वित्तीय सहायता दी जायेगी।

आयुष्मान भारत योजना

पीएम @narendramodi 50 लाख पीएमजेएवाई-एमए योजना के तहत #AyushmanBharat कार्ड के वितरण की शुरुआत करेंगे

यहाँ लाइव देखें: https://t.co/tOcjsTJsuG pic.twitter.com/NEkqMx1L1p — MyGov Hindi (@MyGovHindi) October 17, 2022

PMJAY-MA योजना के बारे में जानकारी

योजना का नाम प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना-मां अमृतम (PMJAY-MA Yojana)
शुरू की गई प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा
लाभार्थी गुजरात के गरीब लोग
उद्देश्य प्रति परिवार ₹500000 का स्वास्थ्य कवर प्रदान करना
साल 2022
राज्य राज्य
योजना का प्रकार केंद्र सरकारी योजना
लाभार्थियों की संख्या 50 लाख से भी अधिक

आयुष्मान भारत कार्ड योजना क्या है?

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने भारत में 25 सितंबर सन 2018 को आयुष्मान भारत कार्ड योजना को लांच किया था। इस योजना के तहत SECC-2011 (सामाजिक आर्थिक और जाति जनगणना ) में शामिल लोगों को ₹500000 तक का कैशलेस स्वास्थ्य कवर प्रदान किया जाता है। इस योजना के लाभार्थियों को आयुष्मान कार्ड दिया जाता है। जिसके माध्यम से आयुष्मान कार्ड धारक इस योजना के तहत सूचीबद्ध प्राइवेट एवं सरकारी अस्पतालों में जाकर बिना पैसे दिए 1350 तरह की बीमारियों का इलाज करवा सकते हैंं।

आयुष्मान भारत हॉस्पिटल लिस्ट

PMJAY-MA योजना का उद्देश्य

इस योजना के लाभार्थियों को आयुष्मान कार्ड बांटने का मुख्य उद्देश्य ₹500000 तक हेल्थ कवर की कैशलेस सुविधा प्रदान करना है। यह सुविधा उन्हें आयुष्मान भारत कार्ड योजना के तहत सूचीबद्ध प्राइवेट एवं सरकारी अस्पतालों में दी जाएगी। PMJAY-MA Card के माध्यम से गुजरात का कोई भी कार्डधारक ‌ पीएमजीवाई योजना के तहत सूचीबद्ध अस्पतालों में जाकर अपना कैशलेस इलाज करवा सकता है। इसके तहत उन्हीं लाभार्थियों को आयुष्मान कार्ड बांटे जाएंगे जिन्हें सितंबर 2021 से अब तक मुख्यमंत्री जी के नेतृत्व में पीएमजेएवाई- एमए योजना के कार्ड दिए गए हैं।

PMJAY-MA Yojana के लाभ एवं विशेषताएं

  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा PMJAY-MA योजना के लाभार्थियों को 17 अक्टूबर 2022 से आयुष्मान कार्ड वितरित करने की शुरुआत कर दी गई है।
  • इस योजना के तहत गुजरात के 50 लाख पीएमजेएवाई- एमए योजना के लाभार्थियों को आयुष्मान पीवीसी कार्ड (पॉलीविनाइल क्लोराइड सामग्री से बनी जिन्हें आसानी से ले जाया जा सकता है) वितरित किए जाएंगे।
  • यह 50 लाख आयुष्मान कार्ड छप चुके हैं जिन्हें संबंधित मुख्य जिला स्वास्थ्य अधिकारियों/ चिकित्सा अधिकारियों को वितरित किया जा चुका है जिन्हें जल्द से जल्द ग्राम स्तर पर वितरित किया जाएगा।
  • अब PMJAY-MA Yojana के लाभार्थी यह आयुष्मान कार्ड प्राप्त करके Ayushman Bharat Card Yojana के तहत सूचीबद्ध प्राइवेट एवं सरकारी अस्पतालों में जाकर अपना ₹500000 तक का कैशलेस इलाज करवा सकते हैंं।
  • इस योजना के लाभ से राज्य के गरीब बीपीएल कार्ड धारक परिवारों भी अब चिंता मुक्त होकर अपनी बीमारी का अच्छे से इलाज करवा सकेंगे।

पीएमजेएवाई-एमए योजना के तहत पात्रता एवं आवेदन प्रक्रिया

इस योजना के तहत आवेदन करने की कोई आवश्यकता नहीं है। क्योंकि गुजरात के मुख्यमंत्री जी के नेतृत्व में पीएमजेएवाई-एमए योजना के तहत सितंबर 2021 से लेकर अब तक 50 लाख PMJAY-MA Card वितरित किए जा चुके हैं। इन्हीं कार्डों के लाभार्थियों को आयुष्मान कार्ड दिए जाएंगे। इन कार्डों को बांटने की शुरुआत प्रधानमंत्री जी के द्वारा 17 अक्टूबर 2022 को कर दी गई है। यह शुरुआत गुजरात में आयोजित एक कार्यक्रम में प्रधानमंत्री जी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से जुड़कर की है। इसके साथ ही उन्होंने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से कई लाभार्थियों से बातचीत भी की है।


Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *