मुख्यमंत्री बीज स्वावलंबन योजना – किसानों को मिलेगा मुफ्त बीज व अन्य सहायता

Mukhyamantri Beej Swavalamban Yojana Rajasthan सरकार द्वारा किसानों को लाभान्वित करने के लिए राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत जी के द्वारा मुख्यमंत्री बीज स्वावलंबन योजना राजस्थान शुरू की गई है। इस योजना के माध्यम से राज्य के किसानों को सरकार द्वारा निशुल्क बीज उपलब्ध करवाए जाएंगे। इसके अलावा राजस्थान सरकार द्वारा कमजोर वर्ग के किसानों को मिनीकिट के माध्यम से लाभ दिया जाता है। क्योंकि खेती करने के लिए किसानों को सबसे ज्यादा बीज की आवश्यकता होती हैं। और कई किसान ऐसे होते हैं जो बीज खरीदने में असमर्थ होते हैं। ऐसे कमजोर वर्ग के कृषकों को लाभान्वित करने के लिए आरएसएससी से निशुल्क बीज उपलब्ध करवाए जाते हैं। ताकि किसान कम लागत में अच्छा उत्पादन कर सके। अगर आप भी राजस्थान के किसान हैं और खेती करने के लिए निशुल्क बीज का लाभ प्राप्त करना चाहते है। तो आपको यह आर्टिकल विस्तारपूर्वक अंत तक पढ़ना होगा।

Mukhyamantri

Mukhyamantri Beej Swavalamban Yojana 2024

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत जी के द्वारा मुख्यमंत्री बीज स्वावलंबन योजना राजस्थान शुरू की गई है। इस योजना के माध्यम से कृषि विभाग द्वारा राज्य के किसानों को लाभान्वित करने के लिए लक्ष्य दिया जाता है। कृषि विभाग द्वारा 30 से 50 किसानों का समूह बनाया जाता है ताकि वह आपसी सहयोग से खेती कर सके। कृषि विभाग द्वारा किसान समूह को चयनित किया जाता है। इन किसानों को आरएसएससी से निशुल्क बीज उपलब्ध कराए जाते हैं। बुवाई के बाद समूह के सभी किसानों को सरकार द्वारा प्रशिक्षण दिया जाता है। यह प्रशिक्षण किसान समूह को 3 चरण में दिया जाता है। ताकि प्रशिक्षण प्राप्त कर जिसके बाद किसान समूह द्वारा बीज उत्पादन करके विक्रय किया जा सके। इसके अलावा Mukhyamantri Beej Swavalamban Yojana के तहत लघु एवं सीमांत किसानों को बीज के लिए अनुदान प्रदान किया जाता है। ताकि राज्य के किसान बिना किसी परेशानी के अपनी खेती कर खुशहाल और आत्मनिर्भर बन सके।

मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना

राज्य के पहले कृषि बजट की घोषणाओं को मूर्त रूप दिया जा रहा है। मुख्यमंत्री बीज स्वावलंबन योजना (एमबीएसवाई) के तहत कृषकों को बीज उत्पादन के लिए 15 करोड़ रूपये की लागत से बीज उपलब्ध कराने के प्रस्ताव को मंजूरी। #किसान_हित_की_बात pic.twitter.com/tyqY9KfOdN — Government of Rajasthan (@RajGovOfficial) May 24, 2022

राजस्थान मुख्यमंत्री बीज स्वावलंबन योजना के बारे में जानकारी

योजना का नाम Mukhyamantri Beej Swavalamban Yojana 2024
शुरू की गई मुख्यमंत्री अशोक गहलोत जी के द्वारा
विभाग कृषि विभाग राजस्थान
लाभार्थी राज्य के किसान
उद्देश्य किसानों को बीज उपलब्ध कराने के लिए 50% तक अनुदान उपलब्ध कराना
अनुदान 50% अनुदान पर बीज उपलब्ध
राज्य राजस्थान
साल 2023
आवेदन प्रक्रिया ऑफलाइन

Mukhymantri Beej Swavalamban Yojana Rajasthan का उद्देश्य

मुख्यमंत्री बीज स्वावलंबन योजना को शुरू करने का मुख्य उद्देश्य कृषि विभाग द्वारा राज्य के लघु एवं सीमांत सामान्य किसानों को बीज उपलब्ध कराने के लिए 50% तक अनुदान उपलब्ध कराना है। इसके अलावा गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करने वाले किसानों को निशुल्क मिनी किट प्रदान करना है। ताकि राज्य के किसान अपने खेत में बीज का उत्पादन कर खुशहाली एवं आत्मनिर्भरता की ओर कदम बढ़ाए। और उन्हें अपने खेत में उपयोग के लिए बीज उत्पादन करने हेतु प्रोत्साहित किया जा सके। इस योजना का लाभ प्राप्त कर किसान कम लागत में अच्छे उत्पादन कर सकेंगे। जिससे उनकी आर्थिक स्थिति में भी वृद्धि होगी।

राजस्थान मुख्यमंत्री कृषक साथी योजना

किसानों को 50% तक का मिलता है अनुदान

मुख्यमंत्री बीज स्वावलंबन योजना के तहत कृषि विभाग द्वारा राज्य के लघु एवं सीमांत किसानों को बीज उपलब्ध कराने के लिए अनुदान दिया जाता है। राज्य के लघु और सीमांत किसानों को इस योजना के अनुसार सरकार द्वारा 50% तक अनुदान पर बीज उपलब्ध कराए जाते हैं। वहीं सामान्य किसानों को 25% अनुदान पर बीजों की आपूर्ति सुनिश्चित की जाती है। इसके अलावा खाद, दवा और कृषि यंत्र भी प्रत्येक राज्य सरकारों द्वारा अनुदान दिया जाता है। यह अनुदान अलग अलग राज्य के हिसाब से अलग-अलग दिया जाता है। Mukhyamantri Beej Swavalamban Yojana के माध्यम से 2 लाख से अधिक किसानों को लाभ प्रदान किया जा चुका है। अब तक इस योजना के तहत राजस्थान सरकार द्वारा 46,326 क्विंटल बीज का निशुल्क वितरण किया जा चुका है।

कैसे मिलेंगे निशुल्क बीज

Mukhyamantri Beej Swavalamban Yojana के तहत राज्य के किसानों को राष्ट्रीय तिलहन एवं ऑयल परमिशन तथा राष्ट्रीय खाद सुरक्षा मिशन के अनुसार सरकार द्वारा बीजों की निशुल्क मिनिकिट वितरण की जाती है। सरकार द्वारा प्रदान की जाने वाली बीजों की मिनी किट के लिए फसल के बीजों का चयन कर राजस्थान के अलग-अलग इलाकों की मिट्टी और जलवायु के आधार पर किया जाता है। ताकि राज्य किसानों को कृषि विभाग द्वारा उन्नत किस्म के बीज उपलब्ध कराए जा सके और उन्हें अपने उपयोग के लिए बीज उत्पादन करने हेतु प्रेरित किया जा सके। एक किसान परिवार के केवल एक महिला सदस्य को ही मिनी किट दी जाती है। चाहे भूमि महिला के पति, पिता या ससुर के नाम से क्यों ना हो। मिनी किट का लाभ महिला सदस्य के नाम से ही दिया जाता है।

कामधेनु डेयरी योजना राजस्थान

मुख्यमंत्री बीज स्वावलंबन योजना राजस्थान के लाभ एवं विशेषताएं

  • मुख्यमंत्री बीज स्वालंबन योजना का लाभ SC, ST छोटे और सीमांत किसानों को प्रदान किया जाता है।
  • गरीबी रेखा के नीचे जीवन यापन करने वाले राज्य के गरीब और आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के किसानों को इस योजना में प्राथमिकता दी जाती है।
  • इस योजना के तहत राष्ट्रीय तिलहन एवं ऑयल परमिशन तथा राष्ट्रीय खाद सुरक्षा मिशन के अनुसार किसानों को निशुल्क मिनी किट का लाभ दिया जाता है।
  • मुख्यमंत्री बीज स्वावलंबन योजना के अंतर्गत छोटे किसानों को 50% तक का अनुदान बीज पर उपलब्ध कराया जाता है।
  • जबकि सामान्य किसानों को 25% अनुदान दिया जाता है।
  • कृषि विभाग राजस्थान द्वारा किसानों को RSSC से निशुल्क बीज उपलब्ध करवाए जाते हैं।
  • अब तक इस योजना के तहत राजस्थान सरकार द्वारा 46,326 क्विंटल बीज का निशुल्क वितरण किया जा चुका है।
  • इस योजना के तहत किसानों को प्रशिक्षण भी दिया जाता है। जिसके बाद किसान बीज उत्पादन करते बीजों का विक्रय कर सके।
  • Mukhyamantri Beej Swavalamban Yojana Rjasthan 2023 के माध्यम से राज्य में 2 लाख से अधिक किसानों को लाभ दिया गया है।
  • किसान इस योजना के माध्यम से अपने खेत में बीज का उत्पादन कर आत्मनिर्भर हो रहे हैं।
  • यह योजना अपने उपयोग के लिए बीज उत्पादन करने हेतु किसानों को प्रेरित करने में मदद करेगी

Mukhyamantri Beej Swavalamban Yojana Rajasthan के लिए पात्रता

  • मुख्यमंत्री बीज स्वावलंबन योजना राजस्थान के लिए आवेदक को राजस्थान का मूल निवासी होना चाहिए।
  • इस योजना का लाभ राज्य के अनुसूचित जाति अनुसूचित जनजाति लघु एवं सीमांत किसानों को प्राप्त होगा।
  • निशुल्क मिनी किट प्राप्त करने के लिए आवेदक ने 3 वर्ष में मिनी किट कार्यक्रम मे लाभ प्राप्त नहीं किया हो।
  • मिनी किट प्राप्त करने के लिए केवल महिला कृषक ही पात्र होगी।

पालनहार योजना राजस्थान

मुख्यमंत्री बीज स्वावलंबन योजना राजस्थान के लिए आवश्यक दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • पहचान पत्र
  • निवास प्रमाण पत्र
  • जाति प्रमाण पत्र
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो

Mukhyamantri Beej Swavalamban Yojana Rajasthan के तहत आवेदन करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको मुख्यमंत्री स्वावलंबन योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए अपने जिले के कृषि विभाग के कार्यालय या कृषि विज्ञान केंद्र जाना होगा।
  • वहां जाकर आपको इस योजना के तहत आवेदन करने हेतु आवेदन फॉर्म प्राप्त करना होगा।
  • आवेदन फॉर्म प्राप्त करने के बाद आपको फॉर्म में पूछी गई सभी आवश्यक जानकारी को ध्यान पूर्वक दर्ज करना होगा।
  • सभी जानकारी दर्ज करने के बाद आपको मांगे गए आवश्यक दस्तावेजों को आवेदन फॉर्म के साथ संलग्न करना होगा।
  • इसके बाद आपको यह आवेदन फॉर्म वापस वही जमा कर देना होगा जहां से आप ने प्राप्त किया था।
  • इस प्रकार मुख्यमंत्री बीज स्वावलंबन योजना के तहत आवेदन करने की प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।
  • आवेदन फॉर्म के सत्यापित होने पर आपको इस योजना का लाभ प्रदान कर दिया जाएगा।

Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *